Miss You Shayari

Akash Singh

याद

|
याद

"याद"
सुनो..
कुछ कहें तुमसे
बेपनाह याद आ रहे हो..

तेरे इंतजार में कब से उदास बैठे हैं

तेरे इंतजार में कब से उदास बैठे हैं,
तेरे दीदार में आँखे बिछाये बैठे हैं,
तू एक नज़र हम को देख ले बस,
इस आस में कब से बेकरार बैठे हैं..

आज हम हैं कल हमारी यादें होंगी

आज हम हैं कल हमारी यादें होंगी,
जब हम ना होंगे तब हमारी बातें होंगी,
कभी पलटोगे जिंदगी के ये पन्ने,
तब शायद आपकी आंखों से भी बरसातें होंगी.

Dil ko aata h jab bhi khayal unka

Dil ko aata h jab bhi khayal unka.

Tasveer se puchte h fir Hal unka.

Kabhi bo Humse Pucha karte The ki,

Judai Kya Hoti H....

Aaj samjh Aaya h Sabal unka......





DinesH KasHyaP.

मेरी यादें मेरा चेहरा मेरी बातें रुलायेंगी

मेरी यादें, मेरा चेहरा, मेरी बातें रुलायेंगी,
हिज़्र के दौर में, गुज़री मुलाकातें रुलायेंगी,
दिन तो चलो तुम काट भी लोगे फसानों में,
जहाँ तन्हा रहोगे तुम, तुम्हें रातें रुलायेंगी।

ऐ दिल तू उसका इन्तजार न कर

ऐ दिल तू उसका इन्तजार न कर,
जो याद न करे उससे प्यार न कर,
कुछ तो बात है उसमें तभी गुरूर करती है,
चाँद पाने के लिए दिल बेकरार न कर।